शिकायत बोल

शिकायत बोल
ऐसा कौन होगा जिसे किसी से कभी कोई शिकायत न हो। शिकायत या शिकायतें होना सामान्य और स्वाभाविक बात है जो हमारी दिनचर्या का हिस्सा है। हम कहीं जाएं या कोई काम करें अपनों से या गैरों से कोई न कोई शिकायत हो ही जाती है-छोटी या बड़ी, सहनीय या असहनीय। अपनों से, गैरों से या फ़िर खरीदे गये उत्पादों, कम्पनियों, विभिन्न सार्वजनिक या निजी क्षेत्र की सेवाओं, लोगों के व्यवहार-आदतों, सरकार-प्रशासन से कोई शिकायत हो तो उसे/उन्हें इस मंच शिकायत बोल पर रखिए। शिकायत अवश्य कीजिए, चुप मत बैठिए। आपको किसी भी प्रकार की किसी से कोई शिकायत हो तोर उसे आप औरों के सामने शिकायत बोल में रखिए। इसका कम या अधिक, असर अवश्य पड़ता है। लोगों को जागरूक और सावधान होने में सहायता मिलती है। विभिन्न मामलों में सुधार की आशा भी रहती है। अपनी बात संक्षेप में संयत और सरल बोलचाल की भाषा में हिन्दी यूनीकोड, हिन्दी (कृतिदेव फ़ोन्ट) या रोमन में लिखकर भेजिए। आवश्यक हो तो सम्बधित फ़ोटो, चित्र या दस्तावेज जेपीजी फ़ार्मेट में साथ ही भेजिए।
इस शिकायत बोल मंच के बारे में अपने इष्ट-मित्रों को भी बताएं।
ई-मेल: शिकायत बोल
shikayatbol@gmail.com
फ़ेसबुक पर

बुधवार, 27 अगस्त 2014

बर्गर

मैकडोनल्ड में मिले फंगस लगे ब्रेड
एक ब्रेड के पैकेट को जैसे ही खोला गया तो उसमें फंगस मिला। इसके बाद सात सौ ब्रेड देखे गये तो सब में फंगस ही मिले। 
allahabad-mac-d
फंगस लगे ब्रेड की जांच करते अधिकारी
इलाहाबाद में इंटरनैशनल ब्रैंड मैकडोनल्ड में फंगस लगे ब्रेड का बर्गर मिल रहा है। खाद्य विभाग की टीम ने जब इस मैकडोनल्ड में छापा मारा तो सैकड़ों की संख्या में फंगस लगे ब्रेड मिले। इसी ब्रेड का बर्गर बनाकर ग्राहकों को सप्लाइ किया जा रहा था।
सोमवार की रात को खाद्य सुरक्षा एवं औषधि विभाग के सिविल लाइंस स्थित मैकडोनल्ड रेस्ट्रॉन्ट में छापे के दौरान 780 फंगस लगे ब्रेड मिले। रेस्ट्रॉन्ट में मौजूद तमाम ग्राहकों ने यह नजारा देखा, तो उनके लिए भी विश्वास करना मुश्किल हो रहा था। फंगस लगे ब्रेड देखकर ज्यादातर लोगों ने खाना छोड़कर चले जाना ही ठीक समझा।

खाद्य सुरक्षा और औषधि विभाग के अधिकारी हरिमोहन की अगुवाई में मैकडोनल्ड में जिस समय टीम जांच के लिए पहुंची, उस समय रेस्ट्रॉन्ट पूरी तरह से भरा हुआ था। टीम ने खाने-पीने की वस्तुओं का निरीक्षण शुरू किया तो उनकी नजर ब्रेड के पैकेटों पर पड़ी।
इन ब्रेड पर सितंबर माह की एक्सपायरी डेट पड़ी थी। एक ब्रेड के पैकेट को जैसे ही खोला गया तो उसमें फंगस मिला। इसके बाद सात सौ ब्रेड देखे गये तो सब में फंगस ही मिले। खाद्य विभाग ने ब्रेड का नमूना लिया और फिलहाल मैकडोनल्ड को नोटिस जारी कर दिया है।
सौजन्य- लिन्क: नवभारत टाइम्स | Aug 27, 2014

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.