शिकायत बोल

शिकायत बोल
ऐसा कौन होगा जिसे किसी से कभी कोई शिकायत न हो। शिकायत या शिकायतें होना सामान्य और स्वाभाविक बात है जो हमारी दिनचर्या का हिस्सा है। हम कहीं जाएं या कोई काम करें अपनों से या गैरों से कोई न कोई शिकायत हो ही जाती है-छोटी या बड़ी, सहनीय या असहनीय। अपनों से, गैरों से या फ़िर खरीदे गये उत्पादों, कम्पनियों, विभिन्न सार्वजनिक या निजी क्षेत्र की सेवाओं, लोगों के व्यवहार-आदतों, सरकार-प्रशासन से कोई शिकायत हो तो उसे/उन्हें इस मंच शिकायत बोल पर रखिए। शिकायत अवश्य कीजिए, चुप मत बैठिए। आपको किसी भी प्रकार की किसी से कोई शिकायत हो तोर उसे आप औरों के सामने शिकायत बोल में रखिए। इसका कम या अधिक, असर अवश्य पड़ता है। लोगों को जागरूक और सावधान होने में सहायता मिलती है। विभिन्न मामलों में सुधार की आशा भी रहती है। अपनी बात संक्षेप में संयत और सरल बोलचाल की भाषा में हिन्दी यूनीकोड, हिन्दी (कृतिदेव फ़ोन्ट) या रोमन में लिखकर भेजिए। आवश्यक हो तो सम्बधित फ़ोटो, चित्र या दस्तावेज जेपीजी फ़ार्मेट में साथ ही भेजिए।
इस शिकायत बोल मंच के बारे में अपने इष्ट-मित्रों को भी बताएं।
ई-मेल: शिकायत बोल
shikayatbol@gmail.com
फ़ेसबुक पर

रविवार, 29 जून 2014

जल आगरा

जल-कल मोदी
सि‍कन्‍दरा जलकल की लोहामंडी और हलवाई की बगीची सहि‍त कई जोनल पम्‍पि‍ग स्‍टेशनों को पानीपहुंचाने वाली मुख्‍य पाइप लाइन के क्‍लैंप दो दि‍न से जलसंस्‍थान और जल नि‍गम के इंजीनि‍यर नहीं लगा पा रहे हैं। इससे दो में से केवल एक पाइप लाइन से ही पानी की अपूर्ति‍ हो पा रही है।बडे क्षेत्र में पानी नहीं पहुंच रहा हे तीन दि‍न से। इस काम में पैसा भी बहुत खर्च हो चुका हे और और काम भी नहीं हुआ है।
जल संस्‍थान का नौसखि‍या अधि‍कारी तंत्र कभी यमुना नदी में पानी की कमी के शि‍गूफे को छोड काम चला रहा है और कभी टोरेंट द्वारा बि‍जली की सप्‍लाई नहीं देने की बात कह रहा है। यही नहीं परेशान जनता का 'हर हर मोदी घर घर मोदी' कह कर भाजपा को जि‍ताने का मजाक सा भी उडा रहे हैं। पार्षदों से कह रहे हैं मेयर से बात करो।  जो भी हो,  तीन दि‍न से जनता प्‍यासी है, एक एक बूंद पानी की कि‍ल्‍लत है। रमजान शुरू हो चुका है, पानी की इन दि‍नों कुछ ज्‍यादा ही कि‍ल्‍लत होती है। इस स्‍थि‍ति‍ में एक दम बदलाव आ सकता है अगर कलैक्‍टर/ जि‍लाधि‍ाकरी यदि‍ ये नहीं हो तो दर्जा प्राप्‍त भी अगर जलसंस्‍थान जोन टू की वाटर सप्‍लाई की समीक्षा करने को समय नि‍काल सके। 'जल संस्‍थान का 'घर घर मोदी..... ' और नगर वि‍कास मंत्री आजम खां से बात करने की एडवाईजरी से जारी करने वाला स्‍टाफ घर घर पानी पहुंचाने के अभि‍यान में खुद ही जुट जायेगा।
• फ़ेसबुक में राजीव सक्सेना

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.